मनोरंजन

रविवार को हासिल को रिलीज हुए 18 साल हो गए और इस मौके पर फिल्म से जुड़ी कुछ यादों को साझा करते हुए धूलिया ने कहा कि इरफान को यकीन था कि उनके द्वारा निभाया गया महात्वाकांक्षी रणविजय का किरदार गब्बर की तरह ही यादगार हो जाएगा।

मुंबई। विश्वविद्यालय की राजनीति पर बनी फिल्म ‘हासिल’ से अभिनेता इरफान खान को यह उम्मीद थी कि इसमें उनके द्वारा निभाए गए रणविजय सिंह का किरदार लोकप्रिय फिल्म ‘शोले’ में खलनायक की भूमिका निभाने वाले अमजद खान के किरदार गब्बर सिंह की तरह याद रखा जाएगा। इस बात का खुलासा इस फिल्म के निर्देशक और अभिनेता के मित्र तिग्मांशु धूलिया ने किया है।
हासिल फिल्म 2003 में रिलीज हुई थी और इसमें खान ने छात्र नेता रणविजय की भूमिका निभाई थी।

इसे भी पढ़ें: एक्ट्रेस संजना सांघी एनजीओ के साथ मिल कर करेंगी ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों की मदद

इस फिल्म में उनके अभिनय और संवाद अदायगी का असर ऐसा रहा कि वह हिंदी पट्टी में छाप छोड़ने में सफल हो गए।
इस फिल्म की कहानी इलाहाबाद के एक विश्वविद्यालय की पृष्ठभूमि में है, जिसमें विश्वविद्यालय के दो गिरोह एक-दूसरे को खत्म करने पर आमदा रहता है।रविवार को हासिल को रिलीज हुए 18 साल हो गए और इस मौके पर फिल्म से जुड़ी कुछ यादों को साझा करते हुए धूलिया ने कहा कि इरफान को यकीन था कि उनके द्वारा निभाया गया महात्वाकांक्षी रणविजय का किरदार गब्बर की तरह ही यादगार हो जाएगा।
निर्देशक ने कहा कि भले ही दोनों ही किरदार एक-दूसरे से एकदम अलग थे लेकिन इरफान खान को हमेशा याद किया जाएगा।
हासिल में शानदार अभिनय करने की वजह से इरफान खान को नकारात्मक भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का फ़िल्मफ़ेयर अवार्ड मिला। इरफान खान का निधन पिछले साल 29 अप्रैल को हो गया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Source link

%d bloggers like this: