खेल

India vs England Women's 1st ODI :  एकता बिष्ट के आगे इंग्लैंड ने घुटने टेके, भारत 66 रन से जीता



लेफ्ट आर्म स्पिनर एकता बिष्ट (25 रन पर 4 विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने शुक्रवार को मुंबई के वानखेडे स्टेडियम में खेले गए पहले वनडे मैच में इंग्लैंड को 66 रनों से हरा दिया. इस जीत के साथ ही भारतीय टीम ने तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है. भारत की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 49.4 ओवर में 202 रन पर आउट हो गई. इसके जवाब में इंग्लैंड 41 ओवर में 136 रन ही बना पाया.

भारत से मिले 203 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की शुरुआत खराब रही और उसने पांच रन के स्कोर पर ही एमी जोंस (1) का विकेट गंवा दिया. मेहमान टीम इसके बाद नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई और वह भारत द्वारा दिए गए लक्ष्य से 66 रन दूर रह गई. इंग्लैंड के लिए नटाली शिवर ने सर्वाधिक 44 रन बनाए. उन्होंने 66 गेंदों पर पांच चौके लगाए. उनके अलावा कप्तान हीथर नाइट ने 64 गेंदों पर दो चौकों की मदद से नाबाद 39 रन की पारी खेली. उनके अलावा टैमी ब्युमोंट ने 18 और साराह टेलर ने 10 रन बनाए. मेहमान टीम के बाकी बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक भी नहीं पहुंच सके. भारत की ओर से एकता बिष्ट ने सर्वाधिक चार चटकाए. उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला. उनके अलावा शिखा पांडे और दीप्ति शर्मा ने दो-दो जबकि झूलन गोस्वामी ने एक विकेट हासिल किया.

इससे पहले मेहमान टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. जेमिमा रॉड्रिग्स (48) और स्मृति मंधाना (24) ने पहले विकेट के लिए 69 रन की साझेदारी कर टीम को मजबूत शुरुआत दी. भारत ने इसके बाद अगले 26 रन के अंदर ही अपने पांच विकेट गंवा दिए. 95 रन पर पांच विकेट गंवाने के बाद मध्यक्रम में कप्तान मिताली राज (44), तानिया भाटिया (25) और झूलन गोस्वामी (30) ने कुछ अच्छी पारियां खेलकर टीम को 202 रनों के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया.

रॉड्रिग्स ने 58 गेंदों पर आठ चौके, मिताली ने 74 गेंदों पर चार चौके, भाटिया ने 41 गेंदों पर दो चौके और झूलन ने 37 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्का लगाया. उनके अलावा शिखा पांडे ने 11 रन बनाए. इंग्लैंड के लिए जार्जिया एल्विस, नटाली शिवर और सोफी एकलेस्टोन ने दो-दो जबकि आन्या श्रब्सूले ने एक विकेट लिए. दोनों टीमों के बीच दूसरा वनडे मैच सोमवार को खेला जाएगा.

Source link

%d bloggers like this: