खेल

Strandja Memorial Boxing : अमित और निकहत गोल्ड मेडल के करीब, तीन अन्य को ब्रॉन्ज



एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अमित पंघाल (49 किलो) और पूर्व जूनियर विश्व चैंपियन निकहत जरीन (51 किलो) समेत चार भारतीय मुक्केबाज बुल्गारिया के सोफिया में चल रहे 70वें स्ट्रांजा मेमोरियल मुक्केबाजी टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंच गए. पुरुष वर्ग में भारतीय चुनौती सिर्फ अमित के रूप में बची है जिसने मोरक्को के सईद मुर्ताजी को 3-2 से हराया. अब उनका सामना कजाखस्तान के तेमिरतास जुसुपोव से होगा.

दो बार की राष्ट्रीय पदक विजेता जरीन ने पोलैंड की सैंड्रा ड्राबिक को 3-2 से मात दी. महिला वर्ग में मंजू रानी (48 किलो) और मीना कुमारी देवी (54 किलो) भी फाइनल में पहुंच गईं. रानी ने बुल्गारिया की एमी मारी तोडोरोवा को हराया जबकि मीना ने रूस की एकातेरिना एस को मात दी.

ये भी पढ़ें- ICC Women’s ODI rankings : भारतीय सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना शीर्ष पर बरकरार

पी बासुमतारी (64 किलो), नीरज (60 किलो) और लवलीना बोरगोहेन (69 किलो) को सेमीफाइनल में हारने के बाद कांस्य से संतोष करना पड़ा. बासुमतारी को इटली की वेलेंटिना अलबर्टी ने हराया जबकि नीरज को स्वीडन की एग्नेस एलेक्सियूसन ने मात दी. विश्व चैंपियनशिप कांस्य पदक विजेता और इंडिया ओपन विजेता बोरगोहेन को चीनी ताइपे की नियेन चिन चेन ने मात दी. भारत ने पिछली बार इस टूर्नामेंट में 11 पदक जीते थे.

ये भी पढ़ें-  ISL 2018-19 : शीर्ष पर पहुंचकर एफसी गोवा ने सेमीफाइनल का टिकट कटाया

Source link

%d bloggers like this: