ज्योतिष

आर्थिक दृष्टि के लिहाज से कर्क राशि के जातकों के लिए यह नया साल अच्छा साबित होने वाला है क्योंकि आय और पारिवारिक जीवन के स्वामी सूर्य छठे भाव में बुध के साथ युति में मौजूद हैं, जो दर्शाता है कि आर्थिक लिहाज से आपके लिए यह समय बेहद ही शुभ रहने वाला है।

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि वैदिक ज्योतिष पर आधारित भविष्यफल पढ़ने के बाद आप साल 2021 में होने वाली सभी प्रकार के घटना-दुर्घटना से पूर्व में ही परिचित हो जाएंगे और आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि आप नए वर्ष की पूरी योजना बनाने में सफल रहेंगे। यह भविष्यवाणी चन्द्र राशि, लग्न तथा वैदिक ज्योतिष के आधार पर किया गया है। इस वार्षिक राशिफल को छह अलग-अलग विषयों में बाँटकर प्रस्तुत किया जा रहा है। इसमें कैरियर, आर्थिक स्थिति, परिवार, प्रेम-रोमांस, शिक्षा और स्वास्थ्य शामिल है।

आइये विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास से जानते है कि नववर्ष 2021 में कर्क राशि का राशिफल कैसा रहेगा। 

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि कर्क राशि के जातकों के लिए यह साल कॅरियर की दृष्टि से अच्छे परिणामो को लेकर आएगा। क्योंकि जहाँ साल की शुरुआत में मंगल ग्रह कर्क राशि के नौकरीपेशा लोगों को प्रमोशन दिलाएंगे, वहीँ दूसरी तरफ व्यापार करने वाले जातकों को शनि और गुरु की सप्तम भाव में उपस्थिति अनुकूल परिणाम दिलाएगी। आर्थिक जीवन की बात करें तो साल की शुरुआत बेहतर साबित होगी, मार्च से मई के दौरान स्थितियाँ काफी बदल जाएँगी, इस समय आपको अधिक आर्थिक लाभ होने की संभावनाएं हैं। सिनेमा जगत व खेल से जुड़े लोगों को इस साल विदेश की यात्राओं और वहां आयोजित होने वाली प्रतियोगिताओं में भाग लेने पर अच्छी सफलताएं मिल सकती हैं। दाम्पत्य जीवन में साथी के साथ किसी बात को लेकर के झगड़ा हो सकता है। इस दौरान आपका जीवनसाथी धर्म-कर्म के कार्य में अधिक वक्त बिताता नज़र आएगा। वहीं यदि आप किसी से प्रेम करते हैं तो, आपके लिए यह वर्ष बेहद अच्छा रहने वाला है।

इसे भी पढ़ें: मिथुन राशि के जातकों का वर्ष 2021 में कैसा रहेगा भविष्यफल, जानिए

कॅरियर 

इस वर्ष कर्म के स्वामी मंगल आपके दसवें घर में स्थित रहेंगे। जिसके परिणामस्वरूप इस वर्ष आपको प्रमोशन मिलने की बहुत संभावना है, जिससे आपके ऑफिस में प्रगति के काफी आसार हैं। कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि इसके अलावा इस समय के दौरान रोजगार की तलाश कर रहे लोग भी सफलता प्राप्त करेंगे, लेकिन इस वर्ष सबसे ज्यादा फायदा उन लोगों को होगा जो सरकारी नौकरियों में हैं। पूरे साल भर शनि आपकी राशि से सप्तम भाव में रहेगा, जो आपके कॅरियर के लिए फ़ायदेमंद साबित होने वाला है। कर्क राशि के जातकों के लिए इस साल के शुभ महीने जनवरी, फरवरी, मार्च और अप्रैल के होने वाले हैं। इस साल रसायन, शिक्षा और तकनीक के क्षेत्र से जुड़े व्यापार करने वाले लोगों को उनके काम में सफलता हासिल होगी। हालांकि अप्रैल से सितंबर तक के महीने के दौरान आपको बेहद ही सावधान रहने की आवश्यकता है, क्योंकि इस अवधि के दौरान आपके भाग्य में गिरावट आ सकती है। 

आर्थिक स्थिति 

आर्थिक दृष्टि के लिहाज से कर्क राशि के जातकों के लिए यह नया साल अच्छा साबित होने वाला है क्योंकि आय और पारिवारिक जीवन के स्वामी सूर्य छठे भाव में बुध के साथ युति में मौजूद हैं, जो दर्शाता है कि आर्थिक लिहाज से आपके लिए यह समय बेहद ही शुभ रहने वाला है। कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि आपको इस वर्ष काफी मुनाफ़ा हासिल होगा। इसके अलावा आपके व्यापार में वृद्धि और विकास होने के भी प्रबल संभावना है। जैसा कि छठा घर दुश्मनों का भी घर कहा जाता है, इसलिए इस वर्ष आपके शत्रु आपके हर काम में परेशानियां पैदा करने की कोशिश करेंगे, लेकिन आपको अपने शत्रुओं पर जीत हासिल होगी। पंचम भाव में शुक्र और ग्यारहवें घर में राहु की स्थिति इस बात की तरफ संकेत दे रही है इस साल आपको बहुत मुनाफ़ा या लाभ हासिल होगा। आपको इस दौरान उन क्षेत्रों में भी सफलता मिलेगी जिसका आप लंबे समय से इंतजार कर रहे थे। इसके अलावा अगर आप शेयर मार्केट में निवेश करना चाहते हैं तो उसके लिए भी समय शुभ साबित होगा। हालांकि जनवरी से अप्रैल तक का समय आपके लिए भाग्य के लिहाज से थोड़ा कम अनुकूल साबित हो सकता है। अपनी आर्थिक स्थिति का उचित ध्यान रखें।

इसे भी पढ़ें: वृषभ राशि के जातकों का वर्ष 2021 में कैसा रहेगा भविष्यफल, जानिए

परिवार 

ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि इस नये साल की शुरुआत कुछ खास अच्छी नहीं रहने वाली है। इसके साथ ही मकर राशि में सप्तम भाव में मौजूद शनि आपके चौथे घर को दृष्टि दे रहा होगा, जिसके कारण आपके पारिवारिक जीवन में सुख की कमी महसूस की जा सकती है। इसके अलावा इस दौरान आपको अपने परिवार से समर्थन या सहयोग भी प्राप्त करना थोड़ा मुश्किल होगा, जिससे आपके व्यक्तिगत जीवन में तनाव पैदा होने की प्रबल आशंका है। 06 अप्रैल को कुंभ राशि में बृहस्पति का गोचर पारिवारिक दृष्टिकोण से आपके लिए अनुकूल साबित होगा। इस दौरान आपके भाई खुश रहेंगे और सफलता हासिल करेंगे। आपके घर का माहौल अच्छा और सुखद होगा। इसके अलावा इस दौरान आपके परिवार में कुछ नए सदस्यों के शामिल होने की भी प्रबल संभावना है। इस वर्ष आपको अनुकूल परिणाम प्राप्त होंगे, क्योंकि इस साल शनि और बृहस्पति आपके सप्तम भाव में मौजूद रहेंगे। जिसके परिणामस्वरूप आपको वैवाहिक जीवन में ठीक-ठाक परिणाम मिलेगा। साथ ही दंपतियों के बीच कुछ ग़लतफ़हमी पैदा हो सकती है, साथ ही वे इस वर्ष के दौरान भावनात्मक रूप से कमजोर रहने वाले हैं। हालाँकि आपको सलाह दी जाती है कि यदि आप अपने बच्चों के व्यवहार में कोई परिवर्तन नज़र भी आता है तो उनके साथ ज्यादा सख्त ना हों। आपका सकारात्मक दृष्टिकोण उनके आत्मविश्वास को बढ़ाएगा और साथ ही उनको हर काम को बेहतर तरीके से करने में सक्षम बनाने में मदद करेगा। 

प्रेम-रोमांस 

आपकी राशि में प्यार और संबंध के घर के स्वामी मंगल का शुक्र और केतु पांचवें घर में दृष्टि दे रहा है, जो आपके प्रेम जीवन में बाधा लाने का कारण बन सकता है। जिसके परिणाम स्वरूप प्रेमी जातकों के बीच के संबंध थोड़े तनावपूर्ण हो सकते हैं। कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि साथ ही आप दोनों के बीच कुछ ग़लतफहमी भी पैदा हो सकती है। हालांकि वहीं दूसरी तरफ़ यह समय उन लोगों के लिए अच्छा होने वाला है जो अपने लिए पार्टनर की तलाश कर रहे हैं। मार्च के मध्य से प्रेमी जातकों के जीवन में कुछ समस्याएं खड़ी हो सकते हैं, लेकिन इसके बाद मार्च के मध्य से लेकर अप्रैल तक का समय आपके प्रेम जीवन के अनुकूल रहेगा। इस अवधि के दौरान आप अपने पार्टनर के ज्यादा करीब आएँगे और उनके साथ सब कुछ साझा करने में ज्यादा सक्षम महसूस करेंगे। इस समय के दौरान प्रेम में पड़े जातक थोड़ा तनाव में वृद्धि महसूस कर सकते हैं, इसीलिए आपको सलाह दी जाती है कि समय-समय पर अपने साथी के साथ अपने बीच खड़े हुए किसी भी विवाद और ग़लतफहमी को हल करते रहें।

इसे भी पढ़ें: मेष राशि के जातकों का वर्ष 2021 में कैसा रहेगा भविष्यफल, जानिए

शिक्षा

इस साल आपको आपके मेहनत और कर्म के आधार पर परिणाम हासिल होंगे, क्योंकि मंगल आप के दसवें घर में स्थित है और शुक्र और केतु युति में साल की शुरुआत में आपके पांचवें घर में मौजूद रहने वाले हैं। जो इस बात की तरफ इशारा करता है कि, इस दौरान आपको अपनी पढ़ाई में बहुत कठिन मेहनत करने की आवश्यकता होगी, क्योंकि केतु की स्थिति के चलते आपका मन विचलित रहेगा और आप अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाएंगे। ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए इस साल जनवरी और अगस्त के महीने सबसे ज्यादा अनुकूल रहने वाले हैं। इस दौरान आपको अपनी कड़ी मेहनत के अनुसार परिणाम प्राप्त होगा। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे छात्रों को सितंबर से नवंबर के बीच की अवधि की तुलना में अप्रैल के महीने में अच्छे परिणाम हासिल होंगे। ऐसे में यदि आप इच्छा अनुसार परिणाम हासिल करना चाहते हैं तो इस वर्ष आपको बहुत मेहनत और लगन के साथ पढ़ाई करनी होगी जिससे आपको मनवांछित फल अवश्य ही प्राप्त होंगे।

स्वास्थ्य 

इस साल आपको मिश्रित परिणाम हासिल होंगे। चूंकि शनि सातवें और आठवें घर का स्वामी इस वर्ष आपकी राशि से सातवें घर में होगा और आप के नौवें और चौथे घर को दृष्टि दे रहा होगा। कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि ग्रहों की यह स्थिति आपके जीवन में स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों की वजह बन सकती हैं, इसलिए आपको विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। वहीं दूसरी तरफ स्वास्थ्य ग्रह का स्वामी चंद्रमा कर्क राशि में स्थित है जो कि कर्क राशि के उन जातकों के लिए काफी अच्छा साबित होगा जो किसी बीमारी से जूझ रहे हैं क्योंकि लंबे समय से किसी बीमारी से पीड़ित ऐसे जातकों की परेशानियों का अंत होगा। स्वास्थ्य के लिहाज से यह समय आपके लिए अनुकूल साबित होगा। आपके विचारों में सकारात्मकता की भावना पैदा होगी। आपके लग्न भाव पर बृहस्पति और शनि का संयुक्त पहलू होगा जिसके परिणाम स्वरूप आप एक उचित और स्वस्थ आहार अपने जीवन में शामिल करेंगे और किसी विशेषज्ञ के मार्गदर्शन में ध्यान और योग सीख सकते हैं। स्वास्थ्य संबंधी परेशानी से बचने के लिए स्वस्थ और शाकाहारी भोजन करने की कोशिश करें।

ज्योतिष उपाय

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि रोज सुबह सूर्य भगवान को जल अर्पित करें। इस जल में थोड़ा सा गुड़ मिला लें। भगवान शंकर को अक्षत अर्पित करें और शिवलिंग का अभिषेक करें।

– अनीष व्यास

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक

Source link

%d bloggers like this: