ज्योतिष

मेष राशि वाले जातकों के लिये वर्ष 2021 काफी अच्छा रहेगा। इस वर्ष मुख्य रूप से आपके कॅरियर और बिजनेस में सफलता प्राप्त होगी, ये साल मुख्य रूप से आपके कॅरियर के लिए काफी अच्छा रहने वाला है क्योंकि इस साल आपको अपने कॅरियर में कर्मफल दाता शनि देव की अपार कृपा प्राप्त होगी।

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि वैदिक ज्योतिष पर आधारित भविष्यफल पढ़ने के बाद आप साल 2021 में होने वाली सभी प्रकार के घटना-दुर्घटना से पूर्व में ही परिचित हो जाएंगे और आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि आप नए वर्ष की पूरी योजना बनाने में सफल रहेंगे। यह भविष्यवाणी चन्द्र राशि, लग्न तथा वैदिक ज्योतिष के आधार पर किया गया है। इस वार्षिक राशिफल को छह अलग-अलग विषयों में बाँटकर प्रस्तुत किया जा रहा है। इसमें कैरियर, आर्थिक स्थिति, परिवार, प्रेम-रोमांस, शिक्षा और स्वास्थ्य शामिल है।

आइये विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास से जानते है कि नववर्ष 2021 में मेष राशि का राशिफल कैसा रहेगा।

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि मेष राशि वाले जातकों के लिये वर्ष 2021 काफी अच्छा रहेगा। इस वर्ष मुख्य रूप से आपके कॅरियर और बिजनेस में सफलता प्राप्त होगी, ये साल मुख्य रूप से आपके कॅरियर के लिए काफी अच्छा रहने वाला है क्योंकि इस साल आपको अपने कॅरियर में कर्मफल दाता शनि देव की अपार कृपा प्राप्त होगी। जो आपके आर्थिक जीवन को खुशहाल बनाने में मदद करेगी। इस वर्ष आपकी इच्छाएं पूरी हो सकती हैं जिससे आप प्रसन्न-चित्त रहेंगे और बहुत समय से अटकी हुई कोई योजना पूर्ण हो जाएगी जिससे आपको अच्छा धन लाभ होगा। आपका पारिवारिक जीवन समस्याओं से घिरा रहेगा। वर्ष की शुरुआत से जुलाई तक आपको पारिवारिक सुख मिलने में मुश्किलें आ सकती हैं। संभावना है कि कार्य के चलते आपको उनसे दूर जाना पड़े, जिससे आपका निजी जीवन सबसे ज्यादा प्रभावित दिखाई देगा। माता-पिता और भाई-बहनों के लिए समय अच्छा नहीं रहेगा। स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना इस वर्ष करना पड़ सकता है।

इसे भी पढ़ें: जानें वास्तु के हिसाब से जूतों को घर में कहां रखना चाहिए

कॅरियर 

कॅरियर उन्नति के संकेत कर रहा है। इसका कारण है कि आपकी राशि से कर्मभाव के स्वामी शनिदेव हैं जिन्हें स्वयं कर्मफल दाता, न्यायप्रिय, दंडाधिकारी कहा जाता है। कर्मभाव में ही विराजमान हैं जिससे आपको शुभ फलों की प्राप्ति होगी, ऐसे में शनि देव का यह प्रभाव आपके लिए सबसे बेहतर साबित होगा। ग्रहों की स्थिति इस समय आपको पूर्व के अनुसार बेहतर परिणाम प्रदान करेगी।  भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि जो जातक स्वयं का व्यवसाय करने के इच्छुक हैं उनके लिये भी यह वर्ष अच्छा रहेगा। इस समय आप स्वयं को साबित कर सकते हैं। अपनी क्षमताओं का, अपनी स्किल का भरपूर प्रयोग कर इस बेहतर समय व अवसरों का लाभ आप उठा सकते हैं। इस वर्ष गुरु शनि के साथ कर्मभाव में विराजमान हैं। यह आपके लिये नीच भंग राजयोग भी कर्मभाव में बना रहे हैं। कोई बड़ी जिम्मेदारी आपको इस समय मिल सकती है। पिछले समय में की गई मेहनत का फल भी आपको इस समय मिल सकता है। 

आर्थिक स्थिति 

मेष राशि के अनुसार इस वर्ष आर्थिक रुप से उन्नति के अनेक अवसर आपके सामने आएँगे और आप अच्छा धन लाभ प्राप्त कर पाने में सफल होंगे। गुरु आपकी राशि के एकादश भाव में विराजमान होंगे, जिससे आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और आपकी आमदनी को फायदा पहुँचेगा। गुरु इस समय आपकी कई मानसिक परेशानियां भी दूर करने का कार्य करेंगे। भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि इस वर्ष आप की आर्थिक स्थिति काफी बेहतर रहने वाली है और आप समय पड़ने पर अपने मित्रों और रिश्तेदारों की आर्थिक सहायता करेंगे। नौकरी करने वाले लोगों को अधिक लाभ मिलेगा। उन्हें मनचाही नौकरी प्राप्त होने से भी अच्छे धन लाभ के स्रोत जुड़ेंगे। वर्ष के अंतिम महीनों में अत्यधिक खर्च होने से आपकी फ़ाइनेंशियल कंडीशन पर थोड़ा सा असर पड़ सकता है। लेकिन उसके बाद फिर से आपकी स्थिति पहले की भांति मजबूत हो जाएगी और आप एक अच्छे आर्थिक जीवन का आनंद लेंगे।

परिवार 

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि इस वर्ष आपको पारिवारिक जीवन में उतार-चढ़ावों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि शनि देव मेष राशि से दशम भाव में स्थित होकर पुरे वर्ष आपकी राशि के चौथे भाव को दृष्ट करेंगे, जिससे आपको पारिवारिक सुख में कमी महसूस होगी। पिता के साथ आपके वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। किसी महत्वपूर्ण मसले पर घर के किसी बड़े बुजुर्ग का साथ आपको मिल सकता है। राहु मेष राशि वालों के परिवार भाव में स्थित रहेंगे। इस दौरान आपको अलर्ट रहने की आवश्यकता होगी। यह वर्ष आपके दांपत्य जीवन के लिए मिश्रित परिणाम देने वाला सिद्ध होगा। इस वर्ष वैवाहिक जीवन में धैर्य बनाए रखें। वर्ष के अंत में ससुराल पक्ष से कुछ कहासुनी हो सकती है। संतान को उपलब्धि हासिल होगी, जिससे दांपत्य जीवन में सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेंगे। इस दौरान संतान के योग भी बनेंगे यदि आपका जीवनसाथी वाहन चलाता है तो, उनके साथ कोई दुर्घटना हो सकती है। ऐसे में इस दौरान उनका ध्यान रखें।

प्रेम-रोमांस 

यह वर्ष मेष राशि के लोगों के प्रेम जीवन के लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। यदि आप पहले से ही किसी प्रेम संबंध में हैं तो इस वर्ष आप की उम्मीदें अपने प्रियतम से कुछ अधिक होंगी जिस कारण कभी-कभी आप दोनों के बीच तकरार हो सकती है। भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि परंतु अप्रैल से सितंबर का समय आपके प्रेम जीवन के लिए बेहद खास साबित होगा। इस दौरान आप दोनों एक दूसरे के प्रेम में लिप्त नजर आएँगे और आप दोनों विवाह करने का फैसला तक ले सकते हैं। लेकिन इन सब के बावजूद भी आप दोनों का प्रेम अटूट रहेगा और आपका रिश्ता पूरे वर्ष अच्छे से चलता रहेगा। यदि आप पहले से किसी रिलेशनशिप में नहीं है तो इस महीने में आपकी इच्छा भी पूरी हो सकती है और आपके जीवन में किसी का आगमन हो सकता है।

शिक्षा

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि शिक्षा के क्षेत्र में जनवरी से मार्च तक कई छात्रों का मन पढ़ाई में लगेगा और उन्हें सफलता मिलेगी। ऐसे में आपको अपनी मेहनत करते रहने की आवश्यकता होगी। आप अपनी खराब संगत की ओर ज्यादा ध्यान ना देते हुए अपने काम से काम रखने की कोशिश करें। वर्ष के अंतिम महीनों में आपके एकादश भाग में मौजूद गुरु भी आपको अच्छे परिणाम देंगे। इसलिए यदि आप विदेश जाने का सपना देख रहे हैं तो, आपकी पंचम राशि में बृहस्पति की ये शुभ दृष्टि आपको मनपसंद स्कूल और कॉलेजों में दाख़िला दिलाने का कार्य करेगी।  फरवरी से मार्च और सितंबर माह आपके लिए बेहद अनुकूल सिद्ध होंगे और इस दौरान आप को प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिल सकती है। इस वर्ष मंगल देव का गोचर 6 सितंबर से 22 अक्टूबर के दौरान, आपकी राशि के छठे भाव में होगा। इस समय छात्रों को भरपूर सफलता मिलेगी।

इसे भी पढ़ें: इस तरह से ‘क्रिस्टल बॉल’ पलट देगी आपकी किस्मत

स्वास्थ्य 

इस वर्ष आपका स्वास्थ्य मिला-जुला रहने वाला है, यदि आप किसी लम्बी बीमारी से ग्रस्त हैं तो इस वर्ष आपको इससे छुटकारा मिल सकता है। भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि लेकिन आपके लिए आवश्यक होगा कि आप काम के साथ-साथ थोड़ा आराम भी करें अन्यथा आप को अत्यधिक थकान हो जाएगी और उसका प्रभाव आपकी शारीरिक क्षमता पर पड़ेगा। यूं तो आप पूरे समय चुस्ती-फुर्ती से भरे रहेंगे लेकिन फिर भी जुलाई के बाद आपको अपने भोजन पर ध्यान देना होगा। गरिष्ठ भोजन से बचकर रहें। साल के मध्य में अपने पिता के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। इस दौरान आप प्रत्येक कार्य को पूरी शक्ति के साथ करने का प्रयास करेंगे और एक अच्छे स्वास्थ्य का आनंद लेंगे।

ज्योतिष उपाय

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि हनुमान जी की आराधना करें। हनुमान चालीसा या सुन्दरकाण्ड का पाठ करें । प्रत्येक मंगलवार व शनिवार को सुंदरकांड का पाठ करें।

अनीष व्यास

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक

Source link

%d bloggers like this: