खेल

पांड्या-राहुल के भाग्य का फैसला अब बीसीसीआई लोकपाल के हाथ में



भारतीय क्रिकेट का संचालन कर रही प्रशासकों की समिति (सीओए) ने केएल राहुल और हार्दिक पांड्या की आपत्तिजनक टिप्पणियों से जुड़ा मामला नवनियुक्त लोकपाल डीके जैन को सौंप दिया है जो अब इन क्रिकेटरों के भाग्य का फैसला करेंगे. राहुल और पांड्या को एक लोकप्रिय टीवी कार्यक्रम के दौरान महिलाओं के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर निलंबित किया गया था, लेकिन जांच लंबित रहने तक उनका निलंबन हटा दिया गया था. जांच सुप्रीम कोर्ट से नियुक्त लोकपाल करेंगे.

सीओए प्रमुख विनोद राय से पूछा गया कि क्या राहुल और पांड्या को कड़ी सजा मिलेगी, उन्होंने कहा, ‘हमने राहुल और पांड्या से जुड़ा मसला लोकपाल को सौंप दिया है. उन्होंने हाल में (इस महीने के शुरू में) पदभार संभाला और अभी हमने उन्हें केवल यही मामला सौंपा है. इस बारे में फैसला करना अब पूरी तरह से उनके अधिकार क्षेत्र में है.’

राहुल और पांड्या की टिप्पणियों से विवाद पैदा हो गया था और उन्हें ऑस्ट्रेलिया दौरे के बीच से स्वदेश भेज दिया गया था. निलंबन हटने के बाद पांड्या न्यूजीलैंड में टीम से जुड़ गए थे. राहुल अभी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेल रही वनडे टीम का हिस्सा हैं जबकि पांड्या पीठ की चोट से उबर रहे हैं.

Source link

%d bloggers like this: